tech

टर्नअराउंड की कवायद: मैग्नाइट पर बड़ा दाव लगा रही निसान मोटर्स इंडिया, प्रॉडक्शन बढ़ाने के लिए 1,000 वर्कर्स की भर्ती करेगी

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • मैग्नाइट का प्रॉडक्शन डेढ़ गुना करेगी, इंडोनेशिया और साउथ अफ्रीका में एक्सपोर्ट करेगी
  • प्लांट का मंथली प्रॉडक्शन 4,000 कार तक लाएगी, अभी हर महीने 2,700 कारें बन रही हैं

जापानी ऑटोमोबाइल कंपनी निसान मोटर्स इंडिया घरेलू और विदेशी बाजार पर बड़ा दाव लगा रही है। निसान ने स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हीकल (SUV) मैग्नाइट की मांग पूरी करने के लिए इंडियन कार प्लांट में प्रॉडक्शन बढ़ाने का फैसला किया है। उसने मैग्नाइट का एक्सपोर्ट करने की भी योजना बनाई है। यह बात निसान मोटर इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर राकेश श्रीवास्तव ने कही है। उन्होंने कहा कि निसान चेन्नई वाले प्लांट में 1,000 वर्कर्स की भर्ती करेगी।

प्लांट का मंथली प्रॉडक्शन बढ़ाएगी

श्रीवास्तव ने कहा कि कंपनी चेन्नई प्लांट का मंथली प्रॉडक्शन बढ़ाकर 4,000 कार तक लाएगी। कंपनी अभी यहां हर महीने 2,700 कारें बना रही है। श्रीवास्तव ने कहा कि कंपनी अपने कॉम्पैक्ट SUV मैग्नाइट को इंडोनेशिया और साउथ अफ्रीका में भी एक्सपोर्ट करना चाहती है। लेकिन भारत में अपनी गाड़ियों की मांग पूरी करना, उसकी पहली प्राथमिकता होगी।

मैग्नाइट की कामयाबी पर निवेश निर्भर

इंडियन मार्केट में निसान का हाल पिछले पांच साल से बेहाल है। इस दौरान यहां इसकी बिक्री 60 पर्सेंट गिर चुकी है और चेन्नई वाले इकलौते प्लांट में कैपेसिटी से कम पर प्रॉडक्शन हो रहा है। सूत्रों ने बताया कि यह मैग्नाइट की कामयाबी पर निर्भर करता है कि निसान भारत में अपनी किस्मत बदलने के लिए कितना पैसा और वक्त लगा सकती है। यह जापानी कार कंपनी दुनियाभर में कायापलट अभियान चला रही है। इसके लिए वह गाड़ियों का पोर्टफोलियो और उत्पादन घटा रही है। वह पुराने चेयरमैन कार्लोस घोस्न की तेज विस्तार की योजना को पलटने और घाटा कम करने में जुटी है।


Source link

Related Articles

Back to top button